महिला अधिकारी ने भगवान श्री कृष्ण को अपना पति मन लिए सात फेरे फिर मनाई शादी की सालगिरह

भक्त और भगवान की ऐसी कहानी जिसे देख और सुनकर आप चौंक जाएंगे की क्या सच में आज के युग में धरती पर ऐसे भी भक्त मौजूद है तो ध्यान से देखिए हमारी ये खबर जिसमें एक युवती ने अपने भगवान को ही पति के रूप में मानकर उनसे शादी करी और एक साल वाद बड़ी धूमधाम से अपनी सादी की पहली सालग्रह मनाई है जिसे देखने और उसमें शामिल होने बड़ी संख्या में लोग वृंदावन पहुंचे ।

फरीदाबाद की रहने वाली कृष्ण भक्त प्रिया ने भगवान से ऐसी प्रीत लगाई कि उन्होंने सब कुछ छोड़कर एक साल पहले वृंदावन में भगवान के साथ 7 फेरे लिए और अब शादी की डेट यानी एनिवर्सरी पर धूमधाम से वृंदावन में पहली एनिवर्सरी मनाई है
वृंदावन में भगवान कृष्ण से प्रिया ने पिछले साल 29 नवंबर 2022 को पूरे रीति रिवाज से शादी की थी तो कल एनिवर्सरी मनाई गई जहां एनिवर्सरी भी सामान्य तरीके से नहीं, बकायदा इसके लिए होटल बुकिंग हुई सजावट की गई और लोगों को न्योता भी दिया गया।
श्री कृष्ण की मूर्ति को पहले बड़ी सुंदर और मनोहारी रूप से सजाया गया जिसमें एक मुरली और मोर पंख के साथ सेहरा पहनाया गया।जिसके वाद दुल्हन के श्रंगार से सजी प्रिया भक्त ने उनके आगे नृत्य करते हुए अपने प्रिय कृष्ण के प्यार का इजहार किया ।दुल्हन की तरह सजी प्रिया घूंघट ओढ़कर धीरे-धीरे स्टेज की तरफ बढ़ीं पति रूप में विराजमान भगवान को देखा तो अपने को रोक नहीं पाई और भजन पर डांस करने लगीं जहां प्रिया ने अपने पति के रूप में भगवान श्री कृष्ण को माला पहनाई और शादी की सालगिरह पर जश्न मनाया ।अपनी शादी की पहली सालगिरह मना रहीं प्रिया ने कहा-हर पति अपनी पत्नी को गिफ्ट देता है मेरे कान्हा ने भी रिंग गिफ्ट दी है तो उनको खास उपहार दिया है। प्रिया ने इस अवसर पर अपने भगवान रूपी पति से कहा कि बिहारी तेरे लिए में बलिहारी-बलिहारी।

गड्डू गोपालजी का ही आशीर्वाद है कि मैंने पहले MBA, फिर PhD की। यही नहीं, मैंने यूनिवर्सिटी टॉप किया इसके अलावा वॉलीबॉल की खिलाड़ी रहीं। इसके चलते मेरा स्पोर्ट्स कोटा में चंडीगढ़ फोरेंसिक में SI पद पर चयन हो गया। कुछ दिन नौकरी की, लेकिन फिर मन गोपालजी की तरफ लगने लगा और नौकरी छोड़ दी इसके बाद इंडिगो एयर में HR एयर होस्टेज बनी। यहां भी वही हाल रहा और फिर सब कुछ छोड़कर वृंदावन आईं । फिर मैंने लड्डू गोपालजी से शादी करने का पूरा मन बना लिया। मैंने मां को फोन किया और कहा कि क्या वह अपनी बेटी का कन्या दान नहीं करेंगी। तो मां ने सहमति दे दी और 29 नवंबर 2022 को मैंने लड्डू गोपाल से शादी कर ली ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *